जानिए कितना कठिन रहा खण्ड शिक्षा अधिकारी भर्ती परीक्षा का पेपर - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Monday, 7 December 2020

जानिए कितना कठिन रहा खण्ड शिक्षा अधिकारी भर्ती परीक्षा का पेपर

खण्ड शिक्षा अधिकारी (बीईओ)-2019 की मुख्य परीक्षा रविवार को प्रयागराज, गाजियाद और लखनऊ के आठ केन्द्रों पर शांतिपूर्वक सम्पन्न हुई। दो पालियों में हुई परीक्षा के लिए 4385 अभ्यर्थियों को देनी थी जिसमें से 94.96 फीसदी यानि 4164 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए।


परीक्षार्थियों ने बताया कितना कठिन रहा पेपर-
परीक्षा देकर बाहर निकलने अभ्यर्थियों ने बताया कि प्रश्न पत्र पीसीएस मेंस की तरह स्तरीय था, इसलिए मुश्किल लगा। प्रश्न पत्र में परम्परागत और करंट अफेयर प्रश्नों का समावेश रहा। जिसमें इतिहास, अर्थशास्त्र भूगोल, उत्तर प्रदेश पर केन्द्रित वं कोरोना से जुड़े सवाल पूछे गये थे। वहीं हिन्दी के प्रश्न पत्र में अभ्यर्थियों से हिन्दी से अंग्रेजी और अंग्रेजी से हिन्दी में अनुवाद भी कराया गया। हिन्दी के प्रश्न पत्र सामान्य अध्ययन की तुलना में थोड़ा सरल था।

परीक्षा देकर निकले अभ्यर्थी विनीत यादव ने कहा कि पहले से उम्मीद थी कि परीक्षा बदले हुए पैटर्न पर होगी। इसलिए उसके अनुरूप तैयारी की थी। पेपर कठिन था लेकिन जिसने नए पैटर्न पर पढ़ाई की होगी उसने हल कर लिया होगा। अभ्यर्थी प्रार्थना मिश्रा ने कहा कि पेपर अच्छा हुआ लेकिन सामान्य अध्ययन और हिन्दी दोनों में ही मुश्किल प्रश्न पूछे गये थे।

309 पदों के लिए हुई परीक्षा में प्रयागराज में 1953, गाजियाबाद में 665 एवं लखनऊ में 1555 अभ्यर्थी पंजीकृत थे। पहली पाली में सामान्य अध्ययन का पेपर हुआ।