स्कूल में अपने बच्चे साथ लाने पर शिक्षिकाओं को सुनाई खरी-खोटी - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Wednesday, 14 October 2020

स्कूल में अपने बच्चे साथ लाने पर शिक्षिकाओं को सुनाई खरी-खोटी


अलीगढ़। एक तरफ गुरुजनों का सम्मान करने की नसीहत दी जाती है। वहीं, डायट के प्रवक्ताओं ने शिक्षकों को खरी-खो सुनाकर उनके सम्मान को ठेस पहुंचाई है। दरअसल, प्रवक्ताओं की खरी-खोटी शिक्षकों को इसलिए सुननी पड़ी. क्योंकि वह विद्यालय में अपने बच्चे साथ ले आई थीं। शिकायत पर इन प्रवक्ताओं से अब उप शिक्षा निदेशक जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान व डायट प्राचार्य डॉ. आईपीएस सोलंकी ने स्पष्टीकरण मांगा है। उनका कहना है कि किसी को भी इस तरह के व्यवहार को अनुमति नहीं है।


सोमवार को विकासखंड लोधा के कई विद्यालयों का निरीक्षण डायट के प्रवक्ता करने गए थे। विद्यालय पहुंचते ही प्रवक्ताओं ने शिक्षिकाओं को बच्चे साथ लाने पर खरी-खोटी सुनाई। शिक्षिकाओं ने कहा, उनके घर पर बच्चे की देखभाल करने वाला कोई नहीं है। बच्चे छोटे हैं, उन्हें अकेला घर पर नहीं छोड़ सकती। उधर, घटना की जानकारी लगते ही शिक्षक संघ मैदान में कूद गया। प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला मंत्री मुकेश कुमार सिंह व उत्तर प्रदेशीय जूनियर हाईस्कूल पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष डॉ. प्रशांत शर्मा ने मामले की शिकायत उप शिक्षा निदेशक जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान ब डायट प्राचार्य से की है। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर प्रवक्ताओं के खिलाफ कार्रवाई नहीं
की गई तो संगठन अग्रिम कदम उठाने को मजबूर होगा।