69000 शिक्षक भर्ती मामला: जिला स्तर पर 46% पद - इस प्रारूप पर लिस्ट बनना मुश्किल है जानिए क्या है कारण, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही यह पोस्ट, आप भी पढें - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Sunday, 4 October 2020

69000 शिक्षक भर्ती मामला: जिला स्तर पर 46% पद - इस प्रारूप पर लिस्ट बनना मुश्किल है जानिए क्या है कारण, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही यह पोस्ट, आप भी पढें

69000 शिक्षक भर्ती मामला: जिला स्तर पर 46% पद - इस प्रारूप पर लिस्ट बनना मुश्किल है जानिए क्या है कारण, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही यह पोस्ट, आप भी पढें 

69000 शिक्षक भर्ती


31661 की लिस्ट निम्न प्रकार से बन सकती है-----

1. 67867 में से हाई मेरिट के 31661 कंडिडेट चुन लिए जाएं। लेकिन इस प्रारूप पर लिस्ट बनना मुश्किल है क्योंकि 67867 पर पिछड़ा वर्ग आयोग का स्टे लगा है।अतः 67867 अथवा उसके किसी हिस्से पर नियुक्ति नहीं की जा सकती।

67867 पर सुप्रीम कोर्ट का भी स्टे है। सुप्रीम कोर्ट का स्पष्ट आदेश है कि 31661 पदों पर सरकार भर्ती कर सकती है ना कि 67867 में से 31661 पदों पर भर्ती कर सकती है।

स्पष्ट है कि इस प्रकार से बनी 31661 की लिस्ट आते ही चैलेंज हो जाएगी। नतीजा लिस्ट पर स्टे!

2.दूसरा तरीका है सरकार 67867 में से 31661 पद को UR, OBC, SC, ST में बांट कर ऊपर से कंडिडेट्स चुनले।

यह भी सम्भव नहीं है।67867 पर स्टे है।

3.तीसरा तरीका है 60℅ 65% पर पास 146060 कंडिडेट्स में से फ्रेश 31661 पदों पर भर्ती की जाए।

चूँकि इस नवीन लिस्ट का 67867 से कोई लेना देना नहीं होगा।इसलिए पिछड़ा वर्ग आयोग अथवा कोर्ट का स्टे प्रभावी नहीं रहेगा।

ना ही किसी का जिला बदलेगा ना ही हाई मेरिट कंडिडेट्स का नुकसान होगा।


4.जिला स्तर पर 46% पद भरने वाला जुमला हवा हवाई है।अगर ऐसा किया गया तो इतने विवाद होंगे कि भर्ती साल भर खिसक जाएगी।

नोट: यह मात्र एक अभ्यर्थी का विचार है.