परिषदीय स्कूलों में एनसीईआरटी किताबों को पढ़ाने से पहले खुद पढ़ाई करेंगे मॉस्साब, दिया जाएगा 3 दिवसीय प्रशिक्षण - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Tuesday, 20 October 2020

परिषदीय स्कूलों में एनसीईआरटी किताबों को पढ़ाने से पहले खुद पढ़ाई करेंगे मॉस्साब, दिया जाएगा 3 दिवसीय प्रशिक्षण

परिषदीय स्कूलों में एनसीईआरटी किताबों को पढ़ाने से पहले खुद पढ़ाई करेंगे मॉस्साब, दिया जाएगा 3 दिवसीय प्रशिक्षण

 
बेसिक शिक्षा परिषद के 113289 प्राथमिक स्कूलों में कक्षा एक में 2021-22 सत्र से लागू होने जा रही राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी ) की किताबों को पढ़ाने से पहले गुरुजी खुद पढ़ाई करेंगे। शिक्षकों को हिन्दी, अंग्रेजी और गणित का तीन दिनी प्रशिक्षण दिया जाएगा ताकि नई पाठ्यपुस्तकें लागू करने पर शिक्षकों को कक्षा शिक्षण में कोई कठिनाई न हो।



एनसीईआरटी की पाठ्यपुस्तकों में विषयवस्तु एवं प्रस्तुतिकरण प्रदेश में चलने वाली किताबों से कहीं-कहीं भिन्‍न है। इसलिए शिक्षकों को प्रशिक्षण देना और जरूरी है। एससीईआरटी निदेशक डॉ. सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह ने राज्य शिक्षा संस्था प्रयागगाज को गणित, आंग्ल भाषा शिक्षण संस्थान (ईएलटीआई) को अंग्रेजी व राज्यहिन्दी संस्थान वाराणसी को हिन्दी का प्रशिक्षण माड्यूल तैयार करने के निर्देश दिए हैं।


ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों तरह से ट्रेनिंग दे सकेंगे 
मॉड्यूल इस प्रकार तैयार किया जाएगा ताकि शिक्षकों को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से प्रशिक्षण कराया जा सके | मॉड्यूल में इस बात पर फोकस रहेगा की किताबों में दी गई गतिविधियों, क्रियाकलापों एवं अभ्यास कार्यो को शिक्षण कक्षा इमें इस प्रकार संचालित कर सके कि बच्चों की रुचि बनी रहे तथावे सीखने के लिए तत्पर रहें।


यूपी बोर्ड ने बिना प्रशिक्षण लागू किया था पाठ्यक्रम 
इससे पहले 2018 में यूपी बोर्ड ने कक्षा 9 से 12 तक में एनसीई आरटी का कोर्स लागू किया था। हालांकि नया कोर्स पढ़ाने के लिए शिक्षकों को कोई ट्रेनिंग नहीं दी गई थी।