31277 नवनियुक्त शिक्षकों में लगभग एक हजार को नियुक्ति पत्र नहीं, दस्तावेजों में गड़बड़ी अथवा काउंसलिंग में शामिल न होने के चलते उठाया गया कदम - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Saturday, 17 October 2020

31277 नवनियुक्त शिक्षकों में लगभग एक हजार को नियुक्ति पत्र नहीं, दस्तावेजों में गड़बड़ी अथवा काउंसलिंग में शामिल न होने के चलते उठाया गया कदम

31277 नवनियुक्त शिक्षकों में लगभग एक हजार को नियुक्ति पत्र नहीं,  दस्तावेजों में गड़बड़ी व काउंसलिंग में शामिल न होने के चलते उठाया गया कदम

 
प्रयागराज : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में शिक्षक पद पर करीब एक हजार अभ्यर्थियों को नियुक्ति नहीं मिल सकी है। ये अभ्यर्थी अनंतिम चयन सूची में शामिल थे, उनमें से कुछ काउंसिलिंग में शामिल नहीं हो सके तो अधिकांश के अभिलेख आनलाइन आवेदन और मूल अभिलेखों से अलग थे। परिषद सचिव प्रताप सिंह बघेल ने बताया कि प्रदेश भर में 30235 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र वितरित कर दिया गया है।



लखनऊ के चार और उन्नाव के 13 नव नियुक्त शिक्षकों के दस्तावेजों में मिली गड़बड़ी, रोका गया नियुक्ति पत्रलखनऊ। प्रमुख संवाददाताप्रदेश के कई जिलों में नव नियुक्त शिक्षकों के दस्तावेजों में गड़बड़ी पकड़ी गयी है। इसके चलते इनके नियुक्ति पत्र रोक दिए गए हैं।


कुछ लोगों के आवेदन पत्रों में गल्तियां मिली हैं जबकि कुछ के अंक पत्र में हेरा फेरी की आशंका जतायी गयी है। लखनऊ में चार अभ्यर्थियों के अंकपत्र में गड़बड़ी मिली है। जबकि उन्नाव में 13 अभ्यर्थियों के नियुक्ति पत्रों में गड़बड़ी मिली है।


लखनऊ में चार अभ्यर्थियों के अंक पत्रों में गड़बड़ी मिली है। इनके अंक पत्र में कुछ और अंक दर्ज हैं लेकिन आवेदन पत्र में इन लोगों के कुछ अलग अंक लिखे हैं। काउन्सिंलिंग में बेसिक शिक्षा अधिकारी ने इनके अंक पत्र में गड़बड़ी पकड़ी। यह जानबूझकर मेरिट में आने के लिए किया गय है या त्रुटिवश हुआ है। अभी यह तय नहीं हुआ है। फिलहाल लखनऊ के बेसिक शिक्षा अधिकारी दिनेश कुमार ने नियुक्ति पत्र रोकने के साथ इनके मामले को सचिव बेसिक शिक्षा परिषद इलाहाबाद को भेजने की बात कही है। 


लखनऊ में 10 अभ्यर्थी काउन्सिलिंग के लिए नहीं आये। इसी तरह उन्नाव के बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताय कि उनके यहां 13 अभ्यर्थियों के अंकपत्र व अन्य प्रमाण पत्रों में गड़बड़ी मिली है। इन्हें भी नियुक्ति पत्र नहीं दिया गया। उन्नाव में 54 अभ्यर्थी काउंसलिंग कराने नहीं आए।