योगी सरकार ने बदली बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूलों की सूरत, 3 साल में बढ़े 50 लाख छात्र - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Saturday, 24 October 2020

योगी सरकार ने बदली बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूलों की सूरत, 3 साल में बढ़े 50 लाख छात्र

प्रदेश सरकार ने प्राथमिक स्कूलों की सूरत में बदलाव ला दिया है। इसका ही परिणाम है कि पिछले तीन साल में प्राथमिक स्कूलों में 50 लाख छात्रों की संख्या बढ़ी है। मिशन प्रेरणा ई-पाठशाला से ऑनलाइन शिक्षा प्रभावी तौर स्कूलों में लागू हो गई है। 


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 21 सितंबर को मिशन प्रेरणा ई-पाठशाला का शुभारंभ किया था जिसके बाद जनपद स्तर पर इस योजना के तहत लाखों छात्र छात्राएं ऑनलाइन शिक्षा का लाभ उठा रहे हैं। कोरोना काल में भी यूपी सरकार की इस योजना के चलते बच्चों की शिक्षा में ब्रेक नहीं लग पाया। कक्षा एक से आठ में अध्ययनरत छात्र छात्राओं की पढ़ाई में अवरोध पैदा न हो इसके लिए राज्य सरकार की ये मुहिम रंग ला रही है। स्मार्टफोन, दूरदर्शन और आकाशवाणी के जरिए 50 लाख से अधिक छात्र ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं।   
 तीन साल में बढ़े 50 लाख छात्र
‘पढ़ेगा इंडिया तभी तो बढ़ेगा इंडिया’ को चरित्रार्थ करते हुए यूपी सरकार द्वारा शिक्षा की दिशा में फैसले लिए हैं जिससे शहर से ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूलों में पढ़ रहे छात्रों को नई दिशा मिली है। पिछले तीन सालों में प्राथमिक स्कूलों में छात्रों की संख्यां 50 लाख तक बढ़ी है। दीक्षा के तहत अभी तक 5000 वीडियो को साइट पर अपलोड किए गए हैं। 70 लाख से अधिक क्यूआर कोड स्कैन किए गए हैं। दो करोड़ से अधिक बार कन्टेंट प्ले किया जा चुका है। सरकार ने स्कूलों में शैक्षिक गतिविधियां शुरू होने पर हर स्कूल को स्मार्ट स्कूल में तब्दील करने की कार्ययोजना के तहत पांच हजार से अधिक स्कूलों को स्मार्ट स्कूलों में बदला जा चुका है।