UP B.Ed Result 2020: जारी हुए यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा के नतीजे, क्लिक कर रिजल्ट देखें - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Saturday, 5 September 2020

UP B.Ed Result 2020: जारी हुए यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा के नतीजे, क्लिक कर रिजल्ट देखें



Uttar Pradesh B Ed joint entrance exam 2020 result: उत्तर प्रदेश बीएड ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम के नतीजे जारी कर दिए गए हैं। नतीजे तय समय के अनुसार शनिवार शाम 5 बजे जारी किए गए। स्टूडेंट्स राज्य रैंक, कैटेगरी रैंक और मार्क्स  लखनऊ विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट https://www.lkouniv.ac.in/से जाकर चेक कर सकते हैं।  लखनऊ विश्वविद्यालय में बीएड प्रवेश परीक्षा के नतीजे यूनिवर्सिटी के चेयरमैन कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय ने जारी किए।  सीतापुर के पंकज कुमार ने परीक्षा में पहला स्थान हासिल किया है। वह 299.333 अंक लाए हैं। वहीं बिहार के सीतामढ़ी के अजय कुमार 295 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहे हैं। 

Uttar Pradesh B Ed joint entrance exam 2020 result direct link

सभी अभ्यर्थी, लखनऊ विश्वविद्यालय की बेवसाइट पर लॉगिन करके अपना प्राप्तांक, स्टेट रैंक, कैटेगरी रैंक देख सकते हैं। काउंसलिंग के लिए भी स्टूडेंट्स को जल्द से जल्द जानकारी दी जाएगी।  अभ्यर्थियों को विभिन्न महाविद्यालयों में सीटों का आवंटन उनके द्वारा मूल आवेदन पत्र में भरे गए विषय वर्ग के अनुसार किया जाएगा। किसी भी दशा में, किसी भी स्तर पर, विषय-वर्ग परिवर्तन अनुमन्य नहीं होगा। उत्तर प्रदेश सरकार की उच्च शिक्षा विभाग की एडिशनल चीफ सेक्रेटरी मोनिका गर्ग ने बताया कि नया सेशन अक्टूबर नवंबर 2020 से शुरू किया जा सकता है। आपको बता दें कि यह  UP B.Ed परीक्षा लखनऊ विश्वविद्यालय ने आयोजित कराई थी।

कोरोना को लेकर विभिन्न आशंकाओं के बीच 9 अगस्त को प्रदेश भर में करीब 83 फीसदी अभ्यर्थियों ने बी.एड प्रवेश परीक्षा दी थी।  प्रदेश के 73 जिलों के कुल 1089 केन्द्रों पर लगभग 3,57,064 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए थे। मोनिका गर्ग ने बताया कि पिछले साल परीक्षा 15 जिलों में 60 से 130 केंद्रों पर आयोजित की गई थी। इस साल टागरेट को डबल कर दिया गया था, जिससे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सके। इस बार उम्मीदवारों की संख्या को देखते हुए जिलों की संख्या बढ़ाकर 73 की गई थी। वहीं अक्षम उम्मीदवारों के लिए खास ध्यान रखा गया, उन्हें उनकी पसंद का जिला दिया गया। 

कोरोना के कारण बदली हुई परिस्थितियों को देखते हुए सभी अभ्यर्थियों, कक्ष निरीक्षकों की सुरक्षा के सभी निर्देशों का पालन कराया गया था। कुछ अभ्यर्थी ऐसे पाये गये, जिनका तापमान अधिक था। उन्हें आइसोलेटेड कक्ष में बैठाकर परीक्षा दिलाई गई थी।

रिजल्ट देखने हेतु क्लिक करें