69000 शिक्षक भर्ती अभ्यर्थियों में भारी आक्रोश, कहा अगर नहीं हुई सुनवाई तो करेंगे विधानसभा कूच:- मुख्यमंत्री और उप मुख्मंत्री से मिलना चाहते हैं शिक्षक अभ्यर्थी - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Monday, 28 September 2020

69000 शिक्षक भर्ती अभ्यर्थियों में भारी आक्रोश, कहा अगर नहीं हुई सुनवाई तो करेंगे विधानसभा कूच:- मुख्यमंत्री और उप मुख्मंत्री से मिलना चाहते हैं शिक्षक अभ्यर्थी

बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से 69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में नियमों की अनदेखी का आरोप लगाकर रविवार को भी अभ्यर्थियों ने प्रदर्शन किया। अभ्यर्थियों ने कहा कि सूची में ओबीसी, एससी के आरक्षण के नियमों का

पालन नही किया जा रहा। प्रदेश भर से आए सैकड़ों अभ्यर्थी इको गार्डेन के पास धरने पर बैठकर नारेबाजी व प्रदर्शन करते रहे लेकिन शाम तक कोई सक्षम अधिकारी उनका ज्ञापन तक लेने नहीं पहुंचा। इससे उनमें भारी आक्रोश है। अभ्यर्थियों का कहना है कि वर्गवार सूची बनाई जाय। किस आधार पर भर्ती किया जा रहा है बताया जाए। 69000 सहायक शिक्षक भर्ती की मूल चयन सूची शैक्षिक गुणांक सहित वर्गवार जारी किया जाए। एमआरसी की आड़ में ओबीसी व एससी का आरक्षण न छीना जाए। कोर्ट व पिछड़ा वर्ग आयोग को मूल चयन सूची उपलब्ध कराई जाए। अभ्यर्थियों का कहना था कि ओबीसी, एससी के अभ्यर्थी सरकार को जगाने के लिए, संकेतिक बुद्धि शुद्धि यज्ञ कर रहे हैं। उम्मीद करते हैं कि इस संकेतिक यज्ञ से सरकार की नींद खुलेगी। हम छात्रों के साथ सरकार न्याय करेगी। यदि हमारी मुलाकात उप मुख्मंत्री केशव प्रसाद मौर्य से नहीं कराई जाती है तो हमारा धरना प्रदर्शन लगातार जारी रहेगा। सोमवार से हम लोग भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे। धरने में मुख्य रूप से कुमार, विजय यादव, पुष्पेंद्र सिंह, भास्कर सिंह, राजपूत, सचिंद्र कुमार सहित सैकड़ों ओबीसी एससी अभ्यर्थी उपस्थित थे।