यूपी में नई शिक्षा नीति लागू करने की कार्ययोजना बनाने की कवायद शुरू - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Wednesday, 26 August 2020

यूपी में नई शिक्षा नीति लागू करने की कार्ययोजना बनाने की कवायद शुरू


उत्तर प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग ने नई शिक्षा नीति लागू करने की कार्ययोजना बनाने की कवायद शुरू कर दी है। इसके लिए शिक्षकों से भी सुझाव लिए जाएंगे। शासन ने सभी क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारियों को नई शिक्षा नीति में प्रस्तावित विषयों पर वेबिनार या वर्चुअल कांफ्रेंस कराने के निर्देश दिए हैं। क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारियों से कहा गया है कि वे नई शिक्षा नीति 2020 के प्रस्तावित विषयों में से कोई एक विषय चुनते हुए अपने क्षेत्र में आने वाले राजकीय या सहायता प्राप्त महाविद्यालय में वेबिनार आयोजित करने की तिथियां निर्धारित करते हुए इसकी सूचना पांच सितंबर तक उपलब्ध कराएं। वेबिनार से प्राप्त निष्कर्षों से संक्षिप्त एवं सारगर्भित सारांश तैयार कर उसे उच्च शिक्षा निदेशालय के माध्यम से शासन को उपलब्ध कराना है। 

वेबिनार में उच्चतर शिक्षा संस्थानों को बड़े और बहुविषयक विश्वविद्यालयों-महाविद्यालयों के रूप में विकसित करने के लिए कार्ययोजना बनाने एवं उसका क्रियान्वयन करने, श्रेणीबद्ध मान्यता की एक पारदर्शी प्रणाली के माध्यम से महाविद्यालयों को ग्रेडेड स्वायत्तता देने के लिए चरणबद्ध प्रक्रिया की स्थापना पर विचार-विमर्श करने, उच्चतर शिक्षा संस्थानों के लिए सार्वजनिक वित्तपोषण की व्यवस्था के लिए सुझाव प्राप्त करने, उच्चतर शिक्षण संस्थानों द्वारा जीवन पर्यंत सीखने के अवसरों को मुहैया कराने के लिए दूरस्थ शिक्षा एवं आनलाइन कोर्स को संचालित करने की योजना बनाने एवं सुझाव देने, डिग्री कार्यक्रमों की अवधि एवं संरचना में बदलाव के लिए विचार-विमर्श करने और शिक्षा के व्यवसायीकरण को रोकने के लिए कार्ययोजना बनाने जैसे विषयों पर चर्चा करने को कहा गया है। 

स्टीयरिंग कमेटी में चार नए सदस्य नामित
उच्च शिक्षा में नई शिक्षा नीति 2020 के क्रियान्वयन के लिए अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा मोनिका एस. गर्ग की अध्यक्षता में गठित स्टीयरिंग कमेटी में आंशिक संशोधन करते हुए चार नए सदस्यों को शामिल किया गया है।

 उच्च शिक्षा विभाग के विशेष सचिव अब्दुल समद की ओर से जारी आदेश के अनुसार कमेटी में बाबू बनारसी दास विश्वविद्यालय लखनऊ के कुलपति प्रो. एके मित्तल की जगह बाबू बनारसी दास विश्वविद्यालय लखनऊ की निदेशक प्रो. मोनिका मेहरोत्रा को सदस्य नामित किया गया है। इसके अलावा डॉ. राम मनोहर लोहिया राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय लखनऊ के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. केए पांडेय, दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के रक्षा अध्ययन विभाग के अध्यक्ष प्रो. हर्ष कुमार सिन्हा तथा दिग्विजय नाथ स्नातकोत्तर महाविद्यालय गोरखपुर के बीएड विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर राज शरण शाही को सदस्य नामित किया गया