ब्रेन हेमरेज से युवा शिक्षामित्र की मौत, सदमे में था, जिले में नौ शिक्षामित्रों की अब तक हो चुकी है मौत: शिक्षामित्र संगठन ने की मुआवजा की मांग - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Sunday, 30 August 2020

ब्रेन हेमरेज से युवा शिक्षामित्र की मौत, सदमे में था, जिले में नौ शिक्षामित्रों की अब तक हो चुकी है मौत: शिक्षामित्र संगठन ने की मुआवजा की मांग


बहेड़ी, बरेली। बहेड़ी के प्राथमिक विद्यालय ग्वारो में शिक्षामित्र थानेश गंगवार का चार दिन पहले ब्रेन हेमरेज हुआ था। बरेली के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान शनिवार को सुबह मौत हो गई। शिक्षामित्र थानेश गंगवार लंबे अरसे से सदमे में चल रहे थे। इधर लाकडाउन की वजह से वे मानसिक और आर्थिक रूप से
परेशान चल रहे थे। इस घटना से शिक्षामित्रों में शोक छा गया है। शिक्षामित्र नेता हरीश गंगवार ने बताया कि बेसिक शिक्षा में शिक्षामित्र के पद पर 2006 से 2014 तक कार्यरत था तत्पश्चात शासन के निर्देशानुसार सहायक अध्यापक के पद पर समायोजित हुए। वे इस पद पर 31 जुलाई 17 तक कार्यरत रहे। 25 जुलाई 2017 को न्यायालय के आदेश अनुसार समायोजन निरस्त हुआ। तभी से थानेश गंगवार अवसाद में रहने लगे। 69000 शिक्षक भर्ती में थानश गंगवार का चयन था। लेकिन मामला कोर्ट में होने की वजह से भर्ती नहीं हो सकी इसलिए वह अवसाद में भी रहने लगे थे। बुधवार को अचानक थानेश के सिर में तेज दर्द के साथ उसकी हालत बिगड़ती चली गई। इस पर उसे शहर के एक प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में इलाज के दोरान भी थानेश की हालत बिगड़ती चली गईं। शनिवार की सुबह उसने दम तोड़ दिया। शनिवार की दोपहर शिक्षामित्र का शव ग्वारी पहुंचा। शव के पहुंचते ही घर में काहराम मच गया। शाम को करीब पांच बजे शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। शिक्षामित्र के पिता नन्‍्हें लाल गंगवार का कहना है कि थानेश की मौत सदमे के चलत हुई है। उनके पिता क॑ मुताबिक शिक्षामित्र की एक चार साल को बंटी व डेढ़ साल का मासूम बेटा है। परिवार की पूरी जिम्मेदारी उनके ही इसी बेटे पर थी और उनका एक बेटा घर छोड़कर चला गया था जो वापस नहीं आया। प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के जिलाध्यक्ष डॉक्टर के पी सिंह ने बताया कि वह दमखांदा ब्लॉक के ब्लॉक प्रभारी था। इसी के साथ जिल में अब तक 9 शिक्षामित्रों की मौत हो चुकी है।

शिक्षामित्र संगठन ने की मुआवजा की मांग
प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के पदाधिकारियों ने शोक संवेदना व्यक्त की है। सरकार से मांग की परिवार के आश्रित को नौकरी व आर्थिक मदद कराने की व्यवस्था करें। संगठन के जिला महामंत्री कपिल यादव ने सरकार से शिक्षामित्रों के समायाजन की मांग की है। शिक्षामित्र नेता अनिल गंगवार, कुमुद केशव पांड, विकास, गौरव पाठक, हरीश गंगवार आदि ने शोक प्रकट किया।