गांवों के स्कूलों में चलेंगी स्मार्ट कक्षाएं, खुलेगा ओपन जिम - PRIMARY KA MASTER | Update Marts | Primary Teacher | Basic Shiksha News

Breaking

Saturday, 29 August 2020

गांवों के स्कूलों में चलेंगी स्मार्ट कक्षाएं, खुलेगा ओपन जिम


गोरखपुर। परफार्मेस ग्रांट 2016-17 के तहत मिली धनराशि से जिले की 37 ग्राम पंचायतों की सूरत बदलने की तैयारी तेज कर दी गई है। पंचायतों ने जो डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की थी उसमें, सीडीओ इंद्रजीत सिंह ने संशोधन के निर्देश दिए हैं। पारंपरिक कामों के अलावा उन्होंने पानी, शिक्षा और खेलकूद पर ज्यादा जोर देने का निर्देश दिया है।

पंचायतों को उसी मुताबिक फिर से डीपीआर तैयार कर जिला स्तरीय कमेटी के सामने पेश करने को कहा गया है। इस कमेटी की स्वीकृति के बाद संबंधित प्रस्ताव राज्य स्तरीय कमेटी के पास जाएगा। वहां से स्वीकृति के बाद निर्माण कार्य शुरू कराया जा सकता है।

सीडीओ ने सभी संबंधित 37 पंचायतों को अपनी डीपीआर में उच्च प्राथमिक विद्यालयों में स्मार्ट क्लास, गांव में ओवर हेड टैंक का निर्माण के अलावा ओपेन जिम और खेल का मैदान अनिवार्य तौर पर शामिल करने का निर्देश दिया है। जिले को परफार्मेंस ग्रांट के 300 करोड़ आवंटित हुए हैं। 50-50 लाख संबंधित पंचायतों के खातों में भेजे भी जा चुके हैं।

क्या है परफार्मेंस ग्रांट
जो ग्राम पंचायतें अपनी परिसंपत्तियों जैसे दुकान, तालाब का पट्टा, बाजार आदि से धन अर्जित करती हैं वे परफार्मेस ग्रांट हासिल करने की पात्र होती हैं। इसके लिए केंद्र सरकार की ओर से 14वें वित्त के तहत यह ग्रांट मुहैया कराई जाती है।


जिले की इन 37 पंचायतों को मिली ग्रांट

बड़हलगंज ब्लाक के परसिया तिवारी 7.67 करोड़, बांसगांव का किशुनपुर उर्फ वगही 4.57 करोड़, बेलघाट का कटया 4.03 करोड़, नकौडी खास 3.74 करोड़, भटहट का औरंगाबाद 3.48 करोड़, जंगल हरपुर 10.09 करोड़, श्रह्मपुर का बेलवा 5.61 करोड़, कैंपियरगंज का चौमुखा 11.97 करोड़, चरगांवा का जंगल तिनकोनिया नंबर एक 11.76 करोड़, परमेश्वरपुर 19.72 करोड़, गोला का बनकटा 3.80 करोड़, भड़सरा 4.34 करोड़, जंगल कौड़िया का तुर्कवलिया 12.18 करोड़, कानपुर 4.56 करोड़,कौड़ीराम का बासपार 3.94 करोड़, बेलीपार 6.36 करोड़, कौड़ीराम 5.45 करोड़, खजनी का भेउसा उर्फ बनकटा 18.62 करोड़, जयपालपुर 4.80 करोड़, साखडाड पांडेय 6.34 करोड़, खोराबार का छितौना 3.53 करोड़, पाली का मकरहठ 3.19 करोड़, मुस्तफाबाद 3.69 करोड़, नेवास 8.92 करोड़, नारंग पट्टी 3.57 करोड़, पिपराइच का रुद्रपुर 17.63 करोड़, पिपरौली का जंगल दीर्घन सिंह 4.06 करोड़, जंगल रानी सुहास कुंवारी 25,53 करोड़, सीयर 4.47 करोड़, भौवापार 16.64 करोड़, सहजनवां का भडसार 14.23 करोड़, भीमापार 4.03 करोड़, रघुनाथपुर 8.62 करोड़, सरदारनगर का भोपा बाजार 7.80 करोड़, उरुवा का मरचा 3.01 करोड़, नारायणपुर 8.08 करोड़, सिसवा उर्फ सिठवा 6.27 करोड़ रुपये मिले।

परफार्मेस ग्रांट से ये काम करा सकती हैं पंचायतें

संपर्क मार्ग, आंतरिक सड़कें/गलियां, ड्रेनेज, एलईडी स्ट्रीट लाइट, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, शुद्ध पेयजल व्यवस्था के कार्य व भूगर्भ जल रीचार्ज के काम, ग्रे वॉटर मैनेजमेंट, लिक्विड वेस्ट मैनेजमेंट, सैप्टेज मैनेजमेंट, वॉटर बाँडी रिजुवेशन, लैंड स्केपिंग, पार्क का विकास एवं पौधरोपण, खेल का मैदान या ओपन जिम, स्कूलों का शुद्धिकरण व स्मार्ट क्लासेज, ग्राम पंचायतों के कार्यों को सुचारू रुप से चलाने के लिए जरूरी अवस्थापना सुविधाओं का विकास

पंचायतों ने जो डीपीआर बनाई थी उसमें कुछ संशोधन के निर्देश दिए गए हैं। सभी पंचायतों को स्कूलों में स्मार्ट क्लास, ओवर हेड टैंक, खेल का मैदान और ओपेन जिम अनिवार्य तौर पर प्रस्ताव में शामिल करने की कहा गया है।

- हिमाशु शेखर ठाकुर, डीपीआरओ